वित्तीय बाज़ारों में KYC को क्यों समाविष्ट किया गया?

वित्तीय बाज़ारों में KYC को क्यों समाविष्ट किया गया?
कैल्कुलेटर

म्यूचुअल फंड सही है?

KYC को प्रस्तावित करने के मुख्य कारणों में से एक था धोखाधड़ी, कर चोरी और काले धन को वैध बनाने वाले मामलों को सीमित/प्रतिबंधित करना| इनको सठीक करने के लिए ये ज़रूरी था की किसी भी लेन-देन के कारोबार का मूलस्रोत और गंतव्य मालूम किये जाएँ| यहाँ KYC को सशक्त किया गया, बैंक खाते और निवेश के क्षेत्र में इस प्रक्रिया को अनिवार्य और सख्त बनाया गया|

SEBI, सिक्यूरिटी बाज़ार विनियामक ने cKYC- कॉमन KYC के ज़रिये निवेशकों के लिए पूरे सिक्यूरिटी बाज़ार को बहुत आसान बना दिया है| एक बार यह प्रक्रिया पूरी होते ही, आप किसी भी सिक्यूरिटी उत्पाद की सिक्यूरिटी बाज़ार में खरीद –फरोख्त कर सकते हैं|

मैं निवेश के लिए तैयार हूँ