इक्विटी फंड्स में विभिन्न प्रकार के जोखिम

Video
कैल्कुलेटर

म्यूचुअल फंड सही है?

बाज़ार का जोखिम इक्विटी फंड्स को प्रभावित करने वाला प्राथमिक जोखिम है। पूरे शेयर बाज़ार को प्रभावित करने वाले विभिन्न कारणों से सिक्योरिटीज़ के मूल्य में कमी बाज़ार का जोखिम होता है। इसलिए बाज़ार के जोखिम को प्रणालीगत जोखिम भी कहा जाता है, यानि ऐसा जोखिम जिसे डाइवर्सिफाई नहीं किया जा सकता।

बाज़ार के जोखिम के लिए कई कारक ज़िम्मेदार हो सकते हैं जैसे व्यापक आर्थिक रुझान, वैश्विक आर्थिक संकट, भू-राजनीतिक तनाव या नियामक परिवर्तन भी। इक्विटी मूल्य जोखिम इक्विटी फंड्स को प्रभावित करने वाले बाज़ार के जोखिम का सबसे बड़ा घटक है। जब बाज़ार में गिरावट आती है, तो सभी शेयरों की कीमतें प्रभावित होती हैं जो बदले में इक्विटी फंड के प्रदर्शन को प्रभावित करता है। बाज़ार के जोखिम के उपरोक्त स्रोतों के अलावा, इक्विटी फंड्स को मुद्रा का जोखिम भी हो सकता है जो बाज़ार के जोखिम में योगदान देता है। मुद्रा का जोखिम उन फंड्स के लिए प्रासंगिक है जो कई देशों में संचालित कंपनियों में निवेश करते हैं।

चूँकि इक्विटी फंड्स विभिन्न उद्योगों और सेक्टरों में निवेश करते हैं, उन्हें उद्योग विशिष्ट जोखिम होता है यानि किसी उद्योग के भीतर कंपनियों को नकारात्मक रूप से प्रभावित करने वाली कोई प्रतिकूल घटना। इक्विटी फंड्स किसी कंपनी में प्रतिकूल घटना द्वारा भी प्रभावित हो सकते हैं जैसे प्रबंधन या कंपनी की नीति में बदलाव। इसे कंपनी विशिष्ट जोखिम कहा जाता है। उद्योग और कंपनी विशिष्ट जोखिम, जिन्हें अनसिस्टमेटिक जोखिम भी कहा जाता है, उन्हें डाइवर्सिफिकेशन के माध्यम से कम किया जा सकता है।

292
मैं निवेश के लिए तैयार हूँ