म्यूचुअल फंड किस तरह से जोखिम प्रबंधन में सहायता करते हैं?

म्यूचुअल फंड किस तरह से जोखिम प्रबंधन में सहायता करते हैं? zoom-icon
कैल्कुलेटर

म्यूचुअल फंड सही है?

जोखिम कई रूपों में दिखते हैं। उदाहरण के लिए, यदि आपके पास किसी कंपनी के शेयर हैं तो मूल्य जोखिम या बाज़ार जोखिम या कंपनी विशिष्ट जोखिम होते हैं। उपरोक्त कारणों में से किसी एक या उनके मिश्रण से केवल उसी कंपनी के शेयर मूल्य गिर सकते हैं या बरबाद हो सकते हैं। 

हालांकि किसी म्यूचुअल फंड में एक आम पोर्टफोलियो में अनेक प्रतिभूतियां होती हैं, जिससे “डाइवर्सिफिकेशन” मिलता है। वास्तव में डाइवर्सिफिकेशन म्यूचुअल फंड में निवेश का सबसे बड़ा लाभ है। यह इस बात को सुनिश्चित करता है कि किसी एक या कुछ प्रतिभूतियों के मूल्य में किसी प्रकार की गिरावट प्रोर्टफोलियो के प्रदर्शन में बहुत खतरनाक प्रभाव न डालें।

तरलता जोखिम, ध्यान में रखने योग्य एक और महत्वपूर्ण जोखिम है। तरलता क्या है? यह किसी एसेट को नगद में बदलने की स्थिति है। मान लीजिए, किसी निवेशक के पास 10 वर्षों के लिए लॉक किया हुए एक निवेश है, और उसे तीसरे वर्ष में पैसों की जरूरत है। इससे एक तरलता वाली समस्या पैदा होती है। इस समय उसकी प्राथमिकता नगद है ना कि लाभ। अपने विनियमों और संरचना के आधार पर म्यूचुअल फंड बेहतर तरलता पेश करते हैं। पोर्टफोलियो को, निवेशक को निवेश और रिडंप्शन की सहजता प्रदान करने के लिए डिज़ाइन किया जाता है।

मैं निवेश के लिए तैयार हूँ