आपकी जोखिम उठाने की क्षमता के आधार पर फंड कैसे चुनें

Video
कैल्कुलेटर

म्यूचुअल फंड सही है?

म्यूचुअल फंड्स बाज़ार से जुड़े उत्पाद होते हैं जिनमें विभिन्न प्रकार के जोखिम होते हैं और उनके रिटर्न्स की गारंटी नहीं होती। सही म्यूचुअल फंड चुनने में न केवल उसके निवेश के उद्देश्य, रिटर्न की संभावना को देखना बल्कि उसके जोखिम का मूल्यांकन करना भी शामिल है। चूँकि जोखिम की वरीयता सहित प्रत्येक निवेशक का अलग व्यक्तित्व होता है, इसलिए हर निवेशक के लिए म्यूचुअल फंड्स का चुनाव भी अलग होगा। जोखिम की वरीयता के अलावा, प्रत्येक निवेशक के मन में एक निश्चित लक्ष्य होगा जो अपने मूल्य और समय अवधि के मुताबिक अलग होगा। इसलिए सही म्यूचुअल फंड चुनने हेतु किसी व्यक्ति के लिए जोखिम-रिटर्न-समय अवधि मेट्रिक के साथ-साथ अलग-अलग फंड्स का मूल्यांकन करना ज़रूरी है।

चलिए एक उदाहरण के साथ इसे समझते हैं। एक 30-वर्षीय व्यक्ति और एक 50-वर्षीय व्यक्ति, दोनों सेवानिवृत्ति के लिए निवेश कर रहे हैं लेकिन उनके फंड्स का चुनाव अलग होगा। 30-वर्षीय व्यक्ति ज़्यादा जोखिम उठा सकता है क्योंकि उसके पास इस लक्ष्य के लिए 25-30 वर्ष बाकी हैं लेकिन 50-वर्षीय व्यक्ति को अपने चयन में बहुत सतर्क रहना होगा क्योंकि उसके पास केवल 8-10 वर्ष बाकी हैं। 

कोई ऐसा फंड चुनें जो आपकी जोखिम उठाने की क्षमता से मेल खाता है। अगर आप कम जोखिम लेना पसंद करते हैं, तो एक डेट फंड चुनें। अगर आपको जोखिम लेने में परेशानी नहीं है, तो कोई उपयुक्त इक्विटी फंड ढूँढें। अगर आपको मध्यम जोखिम लेना पसंद है, तो एक हाइब्रिड फंड ढूँढें। तो, फंड चुनने की शुरुआत इससे की जानी चाहिए कि आप कितना जोखिम उठाने के लिए तैयार हैं।

283
मैं निवेश के लिए तैयार हूँ