गोल्ड ETFs और गोल्ड फंड्स के फायदे

गोल्ड ETFs और गोल्ड फंड्स के फायदे zoom-icon
कैल्कुलेटर

म्यूचुअल फंड सही है?

गोल्ड ETF 99.5% शुद्धता वाले गोल्ड बुलियन (सोने की ईंट) में निवेश करते हैं जो भौतिक धातु में निवेश करने के समान है। अगर आप लंबी-अवधि के लिए सोना एकत्रित करने के बारे में सोच रहे हैं, तो भौतिक रूप में उसे रखने या गोल्ड फंड में निवेश करने के मुकाबले गोल्ड ETF में निवेश करना ज़्यादा समझदारी वाला विकल्प है। 
 
गोल्ड म्यूचुअल फंड्स सोने के खनन, प्रोसेसिंग, फैब्रिकेशन और वितरण में शामिल कंपनियों के शेयरों में निवेश करते हैं। गोल्ड फंड्स का प्रदर्शन इन कंपनियों के शेयरों की कीमतों में उतार-चढ़ाव पर निर्भर करता है। यद्यपि गोल्ड ETF सीधे धातु के प्रदर्शन से जुड़े रिटर्न पेश करते हैं, गोल्ड फंड्स सोने के उद्योग के प्रदर्शन से जुड़े रिटर्न प्रस्तुत करते हैं।
 
गोल्ड म्यूचुअल फंड्स को फंड मैनेजर्स सक्रियता से मैनेज करते हैं, इनमें गोल्ड ETF जो मार्केट इंडेक्स को कॉपी करते हैं, से ज़्यादा बेहतर रिटर्न देने की क्षमता होती है। क्योंकि ETFs इंडेक्स को कॉपी करते हैं, गोल्ड ETFs का एक्सपेंस रेश्यो गोल्ड फंड से कम होता है। गोल्ड ETF भौतिक धातु की कीमतों में उतार-चढ़ाव को गोल्ड म्यूचुअल फंड्स के मुकाबले ज़्यादा सटीक तरीके से ट्रैक करते हैं। चूँकि ETF एक्सचेंज में लिस्टेड होते हैं, इसलिए वे अधिक नकदी प्रस्तुत करते हैं। आप दिन में किसी भी समय सोने की रीयल-टाइम कीमत पर अपनी होल्डिंग्स खरीद या बेच सकते हैं। इसलिए गोल्ड ETF भौतिक सोना रखने से अच्छा विकल्प हैं। गोल्ड फंड एसआईपी के जरिए लंबी अवधि के लिए गोल्ड इंडस्ट्री में निवेश का अच्छा मौका देते हैं।

292
मैं निवेश के लिए तैयार हूँ