ओवरनाइट फंड्स कितने सुरक्षित होते हैं?

ओवरनाइट फंड्स कितने सुरक्षित होते हैं?
कैल्कुलेटर

म्यूचुअल फंड सही है?

अगर आप एक ऐसा म्यूचुअल फंड ढूंढ रहे हैं जिसमें घाटा होने का कोई रिस्क (जोख़िम) नहीं होता है, तो ऐसा कोई म्यूचुअल फंड नहीं है! सारे म्यूचुअल फंड्स में किसी ना किसी तरह का रिस्क फैक्टर होता ही है। जबकि इक्विटी म्यूचुअल फंड्स बाजार जोख़िम के अधीन हैं, डेट फंड्स इंटरेस्ट रेट और डिफ़ॉल्ट जोख़िम के अधीन होते हैं। डेट फंड्स में, पोर्टफोलियो की एवरेज मैच्युरिटी के आधार पर जोख़िम की डिग्री अलग-अलग होती है। डेट फंड के पोर्टफोलियो की मैच्युरिटी जितनी लंबी, उतना ज़्यादा इंटरेस्ट रेट और डिफ़ॉल्ट रिस्क।

ओवरनाइट फंड्स उस तरह के डेट फंड हैं जो अगले दिन मैच्योर होने वाले डेट सेक्यूरिटीज़ में निवेश करते हैं। इसलिए सारे डेट फंडों में इन फंड्स की मैच्युरिटी सबसे कम होती है। इसलिए, इनमें सबसे कम इंटरेस्ट रेट और डिफ़ॉल्ट रिस्क होता है। हालांकि हम यह नहीं मान सकते कि ओवरनाइट फंड्स से जुड़ा कोई रिस्क नहीं होता है, यह मान लेना ठीक रहेगा कि सारे फंड्स के मुकाबले उनमें सबसे कम रिस्क होता है। इसलिए, उन्हें सबसे कम रिस्क पर बहुत कम समय के लिए एक बड़ी नकद राशि को सुरक्षित रखने के लिए उपयुक्त (सही) माना जाता है, जब एकमात्र उद्देश्य ज़्यादा मुनाफ़े की उम्मीद किए बिना पूंजी को सुरक्षित रखना है।

ओवरनाइट फंड्स ना केवल उन बड़ी संस्थाओं के लिए सही हैं जिनके पास बहुत ज़्यादा नकद राशि है बल्कि उन छोटे निवेशकों के लिए भी सही हैं जो कम समय के लिए अपनी लिक्विड राशि को निवेश करना चाहते हैं।

292
मैं निवेश के लिए तैयार हूँ