म्यूचुअल फंड में नामांकन महत्वपूर्ण क्यों है और इसके लिए क्या प्रक्रिया है?

Video
कैल्कुलेटर

म्यूचुअल फंड सही है?

ज़िंदगी में आपके कई लक्ष्य और सपने हो सकते हैं। उन सपनों और आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए आप अपनी कड़ी मेहनत की कमाई को निवेश करते हैं। आप अपने प्रियजनों को उनके सपनों को पाने में मदद करने के लिए भी निवेश कर सकते हैं – ज़िंदगी के साथ भी और ज़िंदगी के बाद भी।

जीवन में हर किसी के अपने कुछ लक्ष्य होते हैं, उन्हें कुछ सपने पूरे करने होते हैं। हर लक्ष्य को पाने के लिए थोड़ी योजना बनानी होती है और पूंजी/पैसों की उसमें अहम भूमिका होती है। लोग अपनी मेहनत की कमाई अपने या अपने प्रियजनों के सपनों और आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए निवेश करते हैं।

ज़िंदगी में कब क्या हो जाए, कुछ कहा नहीं जा सकता। लोग चाहते होंगे कि उनके निधन के बाद, कायदे से, उनके निवेश अपने आप उनके साथी, या बच्चों को पास हो जाएंगे। लेकिन  असल ज़िंदगी में, यह शायद एक आसान या निर्बाध प्रक्रिया ना हो। कारण समझने के लिए चलिए राजीव गुप्ता का उदाहरण लेते हैं।

राजीव गुप्ता ने चार अलग-अलग पोर्टफोलियो बनाए थे, एक अपने लक्ष्यों के लिए, एक अपनी पत्नी की आर्थिक सुरक्षा के लिए, और बाकी अपने बच्चों की शिक्षा के लिए। उसकी म्यूचुअल फंड SIP भी इसी योजनानुसार बनाई गई थी।

खुशनसीबी से, राजीव गुप्ता ने समझदारीपूर्वक अपने हर पोर्टफोलियो के लिए नॉमिनी घोषित कर दिया था। एक आसान से कदम, यानी नॉमिनेशन/नामांकन के साथ, राजीव ने यह सुनिश्चित कर दिया कि अगर कोई दुर्घटना हो गई तो पोर्टफोलियो को सही नॉमिनी को ट्रांसफर कर दिया जाएगा और उसका मकसद ज़रूर पूरा होगा।

MF नॉमिनेशंस 

नॉमिनेशन/नामांकन एक आसान और किफ़ायती तरीका है जिससे किसी की मृत्यु के बाद उनके करीबी और प्रियजनों न्यूनतम कागजी कार्यवाई द्वारा झटपट उनके म्यूचुअल फंड फोलियो, डीमैट अकाउंट या बैंक अकाउंट से धनराशि का दावा कर सकते हैं। 

यूनिट से जुड़े नॉमिनेशन/नामांकन यूनिट धारक की मृत्यु के बाद संपत्ति में कोई दिलचस्पी पैदा नहीं करता है। सभी यूनिट धारकों की मृत्यु होने पर ही यूनिटों के अधिकार नॉमिनी(यों) को मिलेंगे। महत्वपूर्ण बात यह है कि इस नॉमिनेशन/नामांकन के आधार पर ज़रूरी नहीं कि नॉमिनी कोई ओहदा या लाभकारी हित पा सकता है। नॉमिनी(यों) को कानूनी उत्तराधिकारियों या वसीयतदारों के लिए केवल एक एजेंट और ट्रस्टी के रूप में यूनिट्स मिलेंगी, जैसा भी मामला हो।

क्या एमएफ के लिए नॉमिनेशन/नामांकन अनिवार्य है?

MF निवेशकों के लिए नॉमिनेशन/नामांकन अनिवार्य है। 1 अक्टूबर, 2022 से, MF यूनिट्स की सदस्यता लेने वाले नए निवेशकों को अनिवार्य रूप से एक नॉमिनी नियुक्त करना होगा या नॉमिनेशन/नामांकन से ऑप्ट-आउट करने के लिए घोषणा पत्र भरना होगा। मौजूदा निवेशकों को भी या तो 31 मार्च, 2023 तक अपने पुराने निवेशों में एक नॉमिनी नियुक्त करना होगा या नॉमिनेशन/नामांकन से ऑप्ट-आउट करना होगा। यह व्यक्तिगत या संयुक्त रूप से किए गए दोनों ही निवेशों पर लागू होता है।  

म्यूचुअल फंड निवेश में नॉमिनी कैसे जोड़ें?

निकटतम AMC/RTA ब्रांच में एक एप्लीकेशन फॉर्म जमा करके आप अपने म्यूचुअल फंड होल्डिंग में नॉमिनी को जोड़ या अपडेट कर सकते हैं । साथ ही, इसे AMC/RTA की वेबसाइट या mfcentral.com पर ऑनलाइन भी किया जा सकता है । अपने खाते में लॉग इन करें और वह फोलियो चुनें जिसमें आप नॉमिनियों को जोड़ना/अपडेट करना चाहते हैं। हर नॉमिनी को मिलने वाले स्वामित्व के प्रतिशत के साथ नॉमिनी की जानकारी जैसे नाम और पता भरें। अगर प्रतिशत का विवरण नहीं दिया गया है, तो प्रत्येक नॉमिनी समान प्रतिशत का हकदार होगा। इसके बाद आपको नॉमिनी अपडेट करने के अनुरोध को सत्यापित करने के लिए टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन के रूप में एक ओटीपी आएगा। साथ ही आप ई-साइन सुविधा से डिजिटल फॉर्म पर हस्ताक्षर कर सकते हैं।

अगर आपको ऑनलाइन में दिक्कत आती है, तो आप अपने फोलियो में नॉमिनी की जानकारी जोड़ने/अपडेट करने के लिए फंड हाउस की निकटतम ब्रांच या इन्वेस्टर सर्विस सेंटर पर जा सकते हैं। आपको बस एक लिखित आवेदन जमा करना है या कॉमन एप्लीकेशन फॉर्म में संबंधित सेक्शन को भरना है। आपको उस अकाउंट/फोलियो का उल्लेख करना होगा जिसमें आपको नॉमिनियों के नाम जोड़ने/अपडेट करने हैं।  एक अकाउंट/फोलियो में एक से ज़्यादा नॉमिनियों के मामले में, आपको बताना होगा कि किस नॉमिनी को निवेश का कितना प्रतिशत मिलेगा। साथ ही ज्वाइंट होल्डिंग की स्थिति में सभी यूनिट धारकों को फार्म पर स्याही/पेन से हस्ताक्षर करने होंगे।

अंतिम शब्द

याद रखें, अगर कोई निवेशक अपने अकाउंट में नॉमिनी का नाम नहीं डालता है या नॉमिनेशन से बाहर निकलने का विकल्प चुनता है, तो कानूनी उत्तराधिकारी(यों) को निवेश का दावा करने के लिए साबित करना होगा कि वे कानूनन निवेशक के उत्तराधिकारी हैं। पर यह एक लंबी चलने वाली प्रक्रिया हो सकती है। इसलिए, सलाह दी जाती है कि किसी आकस्मिक घटना की स्थिति में एसेट्स को आसानी से ट्रांसफर करवाने के लिए अपने सभी म्यूचुअल फंड निवेशों में नॉमिनी(यों) घोषित करें।  

इसलिए अपने सभी म्यूचुअल फंड निवेश अकाउंट्स को नॉमिनी की जानकारी के साथ अपडेट करें और किसी आकस्मिक घटना के मामले में आपके निवेश का दावा करने के लिए अपने परिवार को कानूनी उत्तराधिकारी साबित करने की परेशानी से बचाएं।

292
मैं निवेश के लिए तैयार हूँ